Just Try Art


BLOG

JUST TRY ART

विश्व पर्यटन दिवस


Loading
वर्ष 1980 से प्रतिवर्ष 27 सितंबर को विश्व पर्यटन दिवस मनाया जाता है, जिसका उद्देश्य पर्यटन और उसके सामाजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक और आर्थिक मुल्यों ...

More..



तराना होली का : कविता


Loading
रंगो का त्योहार है आया होली का।
रंग में रंग जाए आज, ये दिन है होली का।।

भेद भाव सब छोड़ बुराई।
हम सब मिलके ...
More..



दीपो का त्यौहार : कविता


Loading

दीपो का त्यौहार दीवाली।
खुशियों का त्यौहार दीवाली।।

जगमग- जगमग दीप जले है।
घर आँगन ...
More..



विश्व पर्यटन दिवस : लेख


Loading


पर्यटन मन, मष्तिष्क और स्वास्थ्य को दुरुस्त बनाने की वो जादुई छड़ी है
जो हमें नई ऊर्जा से भर देती है वापसी में हम ढेर सारी खुशियों का खज़ाना लिए आते है ...
More..



मदर्स डे : लेख


Loading


माँ हमारे लिए कितनी अनमोल है जिन्हें शब्दो मे बयाँ नही किया जा सकता ।
माँ शब्द वो सुन्दर अहसास है जिसका अनुभव ही मन में सुकून...
More..



होली का क्या कहना है : कविता


Loading

रंग रंगीली होली का क्या कहना है ।
यही तो रंगो का गहना है ।।

घर घर में खुशियों का संदेशा लाया है ।
रंगो से रंगा अम्बर सारा है...
More..



आई रे होली : कविता


Loading

आई रे आई रे होली।
रंगो की बौछार होली।।

मिलकर झूमे नाचे हम।
गीत खुशी के...
More..



रेडियो : लेख

Loading
एफ.एम रेडियो प्रसारण शुरू होने के साथ ही रेडियो का एक तरह से पुनर्जन्म हुआ । एफ.एम रेडियो प्रसारण की शुरुआत 1977 से मद्रास में हो चुकी थी । इसमें अब तक के प्रसारणों से स्पष्ट और बेहतर आवाज़ थी । 1993 में पहली बार पांच शहरों के लिए टाइम स्लांट बेचे गये वहीँ 1999 में निजीकरण के लिए फेज वन पॉलिसी घोषित की गई तथा 90 शहरों में 336 चैनल 10 सालो के लिए वैध प्रसारण लाइसेंस ...

More..



दीवाने गरीबी के : व्यंग्य

किस किस से बात करे, किसे क्षमा करे, किसे भूले किसे याद करें? उपरोक्त वाक्य मात्र एक कल्पना है,लेकिन हकीकत ये भी है कि गरीबी है! शत प्रतिशत है, जिसे लोग देश से दिमाग से दिल से भुला देना चाहते है "शब्दकोष" से हटा देना चाहते है, "नफरत ही सही लेकिन चाहत तो है, मोहब्बत तो है, "बेचारी मासूम गरीबी" से ! कैसे भुला पायेंगे...

More..



ऋतु बसंत बहार ले आई : कविता


Loading

ऋतु बसंत बहार ले आई ।
धरती पर सरसों लहराई ।।

अमुआ की डाली बौर से छाई ।
कोयल ने आवाज लगाई...

More..



सावन की ऋतु खुशियां लाई :कविता


Loading

सावन की ऋतु खुशियां लाई ।
हरी-भरी हरियाली छाई ।।

पेड़ो की डाली लहराई ।
सखियों ने झूला ....

More..



रिमझिम बारिश मन को भायी : कविता


Loading

रिमझिम बारिश मन को भायी,
धरती पर हरियाली छाई,
कलियों ने पंखुड़ियाँ खोली ।
कोयल कुहू-कुहू बोली...

More..



खूबसूरत पर्यटन स्थलों का शहर : लेख


Loading

भोपाल और इसके आसपास कई पर्यटन स्थल है....
आईये जानते है भोपाल और इसके आसपास के दर्शनीय स्थलों के बारे में :-

More..



हिंदी जोक्स


Loading

बहन: मैंने अभी फ्रीज़ से पानी की बोतल निकाल कर रखी थी, इसमें से पानी कहाँ चला गया ??
.
भाई: गर्मी इतनी बढ़ गयी है, पानी उड़ गया होगा ...

More..



दिवाली की खरीददारी : व्यंग्य


Loading

मैने लाख कोशिश की, कि मैं पत्नी का ध्यान उस खरीदी वाले मुद्दे पर न जाने दूं । परन्तु मेरी कोशिश नाकाम रही और पत्नी ने मुझसे भी वो कठिन सवाल पूछ ही लिया ..."हम इस साल दीवाली की खरीददारी में क्या लेंगे ?" उसके इस सवाल पर में चुपचाप सोचने लगा हम क्या खरीद सकते है, और मेरे चुप रहने पर पत्नी ने पुन: वही दर्द देने वाला प्रश्न दोहराया, हम इस बार दीवाली पर क्या लेंगे ,क्या खरीदेंगे मैं अभी उत्तर सोच ही रहा था की तभी स्कूल से लौट कर आये मेरे आट साल के बेटे ने बीच में कहा...

More..



वन्य प्राणी सप्ताह : लेख


Loading

 वन्य जीवन प्रकृति का अनमोल तोहफा है, जो मानव जाति के लिए अति आवश्यक है। विलुप्त होती वन्य जीव प्रजाति को बचाने के लिए वर्ष 1952 में भारत सरकार ने भारतीय वन्यजीव बोर्ड (IBWL) की स्थापना की, यह वन्य जीव संरक्षण हेतु जनता को जागरूक करने के लिए निरंतर कार्यरत है । 7 जुलाई 1955 में वन्यप्राणी दिवस मनाया गया और यह निर्णय लिया गया की प्रत्येक वर्ष अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में वन्यप्राणी सप्ताह मनाया जाये । जिनके प्रमुख उद्देश्य... 

More..



अंधेरे में चारों ओर माँ : कविता


Loading

अंधेरे में चारों ओर माँ के गर्भ में तैरना,
रोज माँ से पूछना, प्य़ार करती हो न मुझसे ।
रोज ठंडे हाथों से छूकर माँ का बताना,
कितना प्यार है ...

More..



एक पिता का स्नेह : कविता


Loading

एक पिता का स्नेह है बेटी,
एक खिलखिलाती मुस्कान है बेटी।
एक गीत का मीठा संगीत है बेटी,
हर जोशीला जीवंत ...

More..



 Visitor Post ➤



  • Just

    Try

    Art

    Copyright © 2019 Just Try Art. All Rights Reserved.